Search This Blog

Thursday, April 18, 2013

राशि विशेष –


मेष और वृश्चिक राशि  जिनकी है, उनके जीवन में अगर विघ्न, कष्ट और समस्याये आती है | तो उनको चाहिए मेष और वृश्चिक राशि  के स्वामी मंगल है | मंगल गायत्री का जप किया करें |

मंगल गायत्री मंत्र  ॐ अंगारकाय विद्महे | शक्तिहस्ताय धीमहि | तन्नो भौम प्रचोदयात |.... ॐ मंगलाय नम: ||

ये मंगल गायत्री बोले और हर मंगलवार को मसूर की डाल के दाने वो थोड़े पक्षियों को डाल दे | और जब स्नान करें तो लाल चंदन का पावडर मिल जाये तो एक चुटकी पावडर बाल्टी में डाल दिया थोडा हिलाकर उससे स्नान कर दे | बहुत फायदा होगा |

वृषभ और तुला राशि  जिनकी है वो शुक्रवार को खीर बना लें | उसमे दूध न दिखे चावल पक जाये (दूध और चावल ) शुक्रवार के दिन वो थोड़ी ठंडी करके गौ माता ( देशी गाय ) को खिलाये | पक्षियों कों थोड़े शुक्रवार को चावल के दाने डाल दे | और थोडा इलायची पावडर, थोडासा केसर पानी में डाल दिया स्नान कर लिया बहुत लाभ होगा |

मिथुन और कन्या राशि  उसके स्वामी बुध है | कन्या राशि  के स्वामी राहू भी माने गये है | इस राशिवालों को चाहिए की बुधवार को हारे मुंग थोडे से पक्षियों को डाल दे नहीं तो गाय को दे सकते है | और ॐ गं गणपतये नमः   जप करें, विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करें, गुरुमंत्र का जप जादा करें |

कर्क राशि  जिनकी है उसके स्वामी चंद्रदेव माने गये है | कर्क राशिवालों चाहिए की यथाशक्ति थोड़े चावल पक्षियों डाले और सोमवार को शिवलिंग पर दूध, जल चढ़ाकर मंत्र बोले

ॐ त्रयम्बकं यजामहे सुगंधिं पुष्टिवर्धनम् उर्व्वारुकमिव बन्धानान्मृत्यो मृक्षीय मामृतात् ।

ये भी याद न रहे तो ॐ हरि ॐ ॐ करते हुए दूध , जल चढ़ा दिया | चंद्रमा को अर्घ्य दे दिया शुक्ल पक्ष में , दूज से पूनम तक अगर न कर पायें तो हर पूनम को दें चद्रंमा को अर्घ्य और मन में बोले की भगवान ने गीता में अपने कहाँ है नक्षत्र का अधिपति मैं ही हूँ मेरा अर्घ्य स्वीकार करों और मेरे जीवन में दुःख, दरिद्रता दूर करों, तो बहुत फायदा होगा |


सिंह  राशि  जिनकी है इसके स्वामी सूर्य है | नित्य सूर्य को अर्घ्य देना चाहिए | अगर सिंह राशिवालों को अगर तकलीफ आती है तो गेहूँ के दाने थोड़े रोज नहीं तो हर रविवार को पक्षियों को डालने चाहिए | और गेहूँ के आटे की रोटी और गुड़ गाय को खिला दे, गाय न मिले तो किसी गरीब को दे दे और गुरुमंत्र का जप खूब करें | रविवार को विशेष ऐसे लोग जिनकी सिंह राशि  है जप जादा करे |

धनु और मीन जिनकी राशि  है | इसके स्वामी भगवान ब्रहस्पतिजी है | लेकिन मीन के स्वामी केतु भी बताये जाते है | तो धनु और मीन राशिवालों को चाहिए की गुरु में भक्ति खूब बढ़ाये क्योंकि इसके स्वामी ब्रहस्पतिजी है | धनु और मीन राशि  जिनकी है वो रोज थोड़ी देर गुरुदेव की तस्वीर सामने रखकर मंत्र बोले ॐ ऐं क्लीं ब्रहस्पतये  नम : |...... ॐ ऐं क्लीं ब्रहस्पतये  नम : |

गुरुवार को आम के पेड़ को चावल, जल, चने के दाने मिलाकर चढ़ा सकते है और बैठकर थोड़ी देर गुरुमंत्र का जप कर लें | और नवरात्रि शुरू है तो एक टाइम भोजन एक टाइम फलाहार करना - हो सके तो और पूरी रात को नही तो जप करना १५ -२० मिनट तो नवरात्रि से बापूजी के अवतरण दिवस तक करें | ( इसमें नवरात्रि, हनुमान जयंती और गुरुदेव का अवतरण दिवस आता है ) तो धनु और मीन राशिवाले गुरु उपसाना करनी ही चाहिए और मीन राशि  वालों को गणपति का जप ॐ गं गणपतये नमः करना चाहिए | आप जब सत्संग में बैठते है गुरुदेव के तो पूरा ध्यान गुरुदेव के वचनों में होता है वो आदमी गणपतिजी की उपसाना कर रहा है | उसकी हर क्षण गणेश पूजा हो रही है | क्योंकि गणेश विवेक की देवता है भगवान गणेश |

मकर और कुंभ राशि जिनकी है | इसके स्वामी शनिदेवता है | तो इन राशिवालों को चाहिए की हनुमान चालीसा का पाठ पूरी ना पढ़ सके तो
मनोजवं मारुततुल्य वेगं जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठं | वातात्मजं वानरयूथ मुख्यं श्री राम दूतं शरणं प्रपद्ये ||

पूरा याद न रहा तो - श्रीरामदूतं शरणम प्रपद्ये | श्रीरामदूतं शरणम प्रपद्ये
 
Zodiac special

Aries and Scorpio: Those who belong to these zodiacs and are facing troubles, hurdles or agony in life, should recite Mangal Gayatri as Mangal is the ruler of these signs.

Mangal Gayatri Mantra: AUM ANGARAKAAYA VIDMAHE | SHAKTIHASTHAYA DHIMAHI | TANNO BHAUM PRACHODAYAT | ......... AUM MANGALAYA NAMAH ||

Recite this and every Tuesday offer some grains of masoor lentils to birds. Before taking a bath, add a small pinch of red chandan powder to the bucket. All such practices will be highly beneficial.

Taurus and Libra: People will this zodiac should make rice porridge on Fridays. Cook it to the extent that milk is not visible and is completely absorbed by rice. Offer this after cooling it to mother cow. Offer some rice grains to birds. Taking a bath after adding cardamom powder and kesar to bathing water is also beneficial.

Gemini and Virgo: The ruler of these zodiacs is Budh. Rahu is also recognised as a ruler of Virgo. They should offer some green moong grains to birds on Wednesdays. You may also feed the cows. Recite AUM GAM GANAPATAYE NAMAH, do paath of VISHNUSAHASRANAAM and do more japa of Guru mantra.

Cancer: The ruler of this zodiac is known to be Moon lord. Those with this sign should offer some grains to birds as feasible and oblate milk, water on Mondays on Shivlinga while reciting the following mantra.

AUM TRAYAMBAKAM YAJAMAHE SUGANDHIM PUSHTIVARDHANAM |
URVARUKAMIVA BANDHANAN MRITYO MOKSHIYA MAAMRITAAT ||


If you cannot remember the entire verse, you may also recite - AUM HARI AUM AUM .... Offer oblations to Moon lord during waxing phase of moon period. If you cannot do that on all days, then atleast do it on full moon night and mentally remind yourself that Lord Krishna has mentioned in Gita - 'I am the establishing force of all constellations', please accept my oblations and grant me happiness by alleviating my pains.

Leo: The ruler of this zodiac is sun. One should regularly offer oblations to Sun. If people of this zodiac are having problems, offer wheat grains everyday to birds, if not possible atleast on sundays. You can also offer roti made of wheat along with jaggery to cow or some poor person. Recite guru mantra in plenty, especially on sundays.

Sagittarius and Pisces: The ruler of these zodiacs is Brihaspatiji. But some also mention Ketu as ruler of Pisces. Both these zodiacs should practice devotion to Gurudev at highest levels. They should sit in front of Gurudev's portrait and recite - AUM AIM KLEEM BRIHASPATAYE NAMAH |... AUM AIM KLEEM BRIHASPATAYE NAMAH |... AUM AIM KLEEM BRIHASPATAYE NAMAH |...

On Thursdays, offer some rice grains, water and chana daal at the roots of mango tree and then sit there and recite Guru mantra for some time. During Navratris, one should only one meal a day and one time take only fruits. if possible for the entire night, do japa or else 15-20 minutes starting from navratri leading upto Bapuji's Avataran day. (These days include navaratri, Hanuman jayanti and avataran day of Bapuji) They should pray to Guruji with great devotion and also pray to Lord Ganapatiji - AUM GAM GANAPATAYE NAMAH |

When someone is listening to Gurudev's satsang with full attention, he is in fact performing austerities for Lord Ganesha. He is praying to Lord Ganesha at all times. This is true as Ganesha bestows pure intellect.

Capricorn and Aquarius: The ruler of these zodiacs is Shani lord. They should read Hanuman Chalisa everyday, if not possible atleast recite the following:

MANOJAVAM MAARUTATULYA VEGAM JITENDRIYAM BUDDHIMATAAM VARIShTAM |
VATATMAJAM VANARAYUTH MUKHYAM SHRI RAMA DOOTAM SHARANAM PRAPADYE ||


If you cannot remember the entire verse,
recite - SHRIRAMADOOTAM SHARANAM PRAPADYE | ...
SHRIRAMADOOTAM SHARANAM PRAPADYE | ....
- Shri Sureshanandji Kalyan Mumbai – 9th April' 2013 

No comments: