Search This Blog

Wednesday, September 28, 2011

गुर्दे की तकलीफ में

गुर्दे की तकलीफ में भोजन के बाद तुरंत पेशाब करना चाहिए l


Barmer -1st Sep. 2011

Tuesday, September 27, 2011

श्राद्ध में करने योग्य

श्राद्ध पक्ष ( 29th Sep to 15th Oct'2012 )में १ माला रोज द्वादश मंत्र " ॐ नमो भगवते वासुदेवाय " की करनी चाहिए और उस माला का फल नित्य अपने पितृ को अर्पण करना चाहिए। 

Recommended task in Shraadh Paksh :-

During Shraadh Paksh ( 29th Sep to 15th Oct'2012), chant one mala daily of the 12 syllable mantra, "AUM NAMO BHAGAVATE VASUDEVAAYA" and offer the fruits of that recitation to your forefathers. 


- रेखा दीदी Saharanpur 26th Sep, 2011

सफलता पाने के लिए

जब भी कोई बड़ा काम करना हो, तो दाया कदम तीन बार उठा कर आगे जाओ। अच्छे काम में सफलता मिलेगी ।



- पूज्य बापूजी Patiala 24th Sep, 2011

रोटी कैसी खाये

काले दाग वाली रोटी खाने वाले को गैस की बीमारी होती है, अजीर्ण होता है, बदहाजमा होता है। रोटी के काले-काले दाग नहीं खाने चाहिए ।
Listen Audio

- पूज्य बापूजी Patiala 24th Sep,2011

श्राद्ध के लिए विशेष मंत्र

" ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं स्वधादेव्यै स्वाहा । "
इस मंत्र के जप कर के हाथ उठाकर सूर्य नारायण को पितृ की तृप्ति एवं सदगति के लिए प्राथना करें । स्वधा ब्हमाजी की मानस पुत्री हें। इस मंत्र के जप से पितृ की तृप्ति अवश्य होती है और श्राद्ध में जो त्रुटी रह गई हो वे भी पूर्ण हो जाती है।
श्राद्ध पक्ष - 29th Sep to 15th Oct'2012

Special mantra during Shraadh Paksh

"AUM HREEM SHREEM KLEEM SVADHADEVYAYEE SWAHA |"

Recite this mantra, raise your hands and pray to Surya Narayan requesting him to offer gratification and spiritual propagation to your forefathers. Svadha is the celestial daughter of Brahmaji. Reciting this mantra offers absolute gratification to your ancestors and also compensates for any shortcomings during Shraadh ritual.


- पूज्य बापूजी Patiala 24 Sep, 2011

गौमुखी व आसन सम्बंधित बातें

कई साधक जप करते, उस के बाद गौ-मुखी आसन पर रख देते…आसन के उपर गौ-मुखी ना रखिए… क्योंकि हम जब आसन पर बैठते हैं तब हमारी चरणों की धूलि (पैर की मिट्टी) आसन पर लग जाती है l और जो आप पाठ करते है गुरुगीता, गजेन्द्र मोक्ष, आदित्यह्रदय स्तोत्र, अदि पाठ करने की पुस्तकों भी आसन पे न रखे अपने आसन से इन चीजो को थोड़ी उची रखे ....
कई साधक भाई बहेनों को ये नहीं पता होता कि आसन और गौ-मुखी हम धो भी सकते हैं … कितने वर्षों तक गौ-मुखी को मैला रखते हैं l

Gaumukhi and Asana related precautions :-

Some people keep the Gaumukhi on the asana after completing their japa... One should not do this.. as when we sit on the asana, some of the dirt falls off our feet and falls on it. Also, when you do recitation of GuruGita, Gajendramoksha, Aditya Hridaya Stotra and others, never keep these holy books on the asana. Instead they should be kept at a level higher than the asana.

Sadhak brothers and sisters should also take note of the fact that asana and Gaumukhi can be washed as well, not to be kept dirty for years .

Rekha Didi, Saharanpur-26th Sep. 2011

अमावस्या के दिन विशेष सावधानी

अमावस्या के दिन किसी दूसरे का अन्न खाने से १ महीने के साधन-भजन का पुण्य खिलाने वाले व्यक्ति को मिल जाता है l पूनम के दिन भी ऐसा होता है इसलिए अमावस्या या पूनम के दिन मुफ्त का अन्न खाएं l

Listen Audio


Barmer-31st Aug. 2011

Friday, September 23, 2011

भोजन करते समय बैठने की विधि

हम टेबल पर खाना खाने सीधे बैठते हैं तो पैर नीचे होते हैं, जिससे पाचन तंत्र पर और किडनी पर तनाव पड़ता है, इससे गैस की और वायु की तकलीफें बढ़ती हैं l कुर्सी पर बैठ कर भोजन करने की अपेक्षा पालथी मार कर भोजन करना पाचन तंत्र को मजबूत करना है , तनाव से बचना है , गैस की तकलीफ , लीवर की तकलीफ में राहत मिलता है l अगर किसी के साथ बैठना ही पड़ता है टेबल पर तो कुर्सी पर भी पालथी मार के बैठें |

चंडीगढ़ - 21 Sep.2011

Thursday, September 22, 2011

टी. बी. की बीमारी के लिए

बकरी की एक किलो सूखी लेंडी (जैसे घोड़े की लीद होती है, ऐसे ही बकरी की छोटी-छोटी लेंडी होती है) को मटके में साढ़े तीन लीटर लीटर पानी में डाल के भीगा दो l ३ दिन भीगे उसको बाद में मसल के लकड़ी की आग पर उबालो ( जैसे चाय उबालते हैं) पानी सूख गया हो तो आधा लीटर पानी डाल के उबालो। बाद में छान के भर के रख दो आधा कप सुबह व आधा कप शाम को, संतकृपा चूर्ण की १ चुटकी डाल के पिला दो कैसी भी टी. बी. हो आराम हो जाएगा |

Cure for Tuberculosis (T.B)

Take a kilo of dry dung of goat (just as horse gives out dung, a goat gives out in smaller proportions). Soak them in a container with about three and half liters of water for three days. Then, mash them up and boil it over a woodfire.... just as tea is boiled. If the water has dried out, then you may add another half a liter of water for boiling. Then, sieve this concoction and drink it half a cup in the morning or evening along with a pinch of Santkrupa Churna. This will surely provide relief from tuberculosis.


Listen Audio

- पूज्य बापूजी Sagwara 6th Sep. 2011

Wednesday, September 21, 2011

खून की कमी

चकुंदर (उसको बीट भी कहें ते है )के टुकड़े करके चाशनी में डालकर पका लें l जैसे आंवला केंडी बनती है, वैसे ही ये चकुंदर केंडी बन गयी l थोडा रोज खाये ...खूब खून बनेगा.... भोजन के बाद या कैसे भी खाये इसके अलावा गन्ना खाएं तथा टमाटर का जूस व किशमिश भिगा के उसका जूस पियें l और भोजन के बाद किशमिश, टमाटर या गाजर ( उसमे से पीला भाग नीकाल दें ) उसका जूस पियें तो भी खून बने गा ।

Anaemia

Chakunder (also called as beetroot), make slices of them and dip it in sugar syrup. Make candies out of it similar to amla candy. Have some everyday.... this will greatly improve blood formation... Take it after meals or in any other time. Once can also have juice made of amla, sugarcane, and tomato with soaked kismiss. Or having juice made of kismiss, tomato or carrot(remove the yellow portion) after meals is also considered beneficial.

Sawai Madhopur 15th Aug. 2011

पेट की बीमारियाँ

शिवलिंगी, (गुजराती में इन्द्रवरना) (देखने में गोल व पीला होता है) में छेद करके उसमे अजवाइन भर दो और उसे सूखने रख दो l सूख जाने पर अजवाइन निकालकर पाउडर बना लो और पेट की तकलीफ में चम्मच पानी से फांको l

Stomach problems :-

Make a small hole in Shivlingi, (called as Indravarna in Gujrati, is round and yellow in colour) and fill it with Ajwain and let it dry out. Once dry, take out ajwain and make powder and take it with a glass of water whenever faced with stomach ailments.

Balotra 2nd Sep. 2011

Sunday, September 18, 2011

आर्थिक परेशानी रहेती हो तो, पैसो की तंगी हो तो

जिसे आर्थिक परेशानी रहती हो या पैसो की तंगी हो, तो वे विष्णुसहस्त्र नाम का ७८वां श्लोक बार-बार पढ़ें ।
" श्रीदः श्रीशः श्रीनिवासः श्रीनिधिः श्रीविभावनः ।
श्रीधरः श्रीकरः श्रेयः श्रीमाँल्लोकत्रयाश्रयः ।। "
-श्लोक ७८ विष्णुसहस्त्र नाम
Listen Audio

- श्री सुरेशानंदजी Delhi Rohini 11th Sep, 2011

घबराहट के समय

कभी कोई घबराहट हो या कोई ऐसी बात सुनाये तो जीभ ऊपर तालू में लगा दें। इससे मानसिक संतुलन बना रहेगा ।


- श्री सुरेशानंदजी Delhi Rohini 12th Sep, 2011

Sugar बढ़ने की तकलीफ़ के लिए

जिसे Sugar बढ़ने की तकलीफ़ हो वे चना का आटा और जौ का आटा समान मात्रा में लेकर उसकी रोटी बनाये । दोपहर को २-३ खाएं ।
त्रिफला का सेवन रोज करें | त्रिफला की गोली भी मिलती है आश्रम में |
आम के पत्ते आते है ...हरे हरे ...छाँव में सुखा दें साफ कर के ...सूख जाएँ तो उसका पाउडर बना दें ...एक चम्मच पाउडर रात को एक ग्लास पानी में डाल दें | सुबह उसको उबालें ...इतना उबालें कि आधा ग्लास पानी हो जाये छानकर ...जिसको शुगर है उसको रोज पिलायें, फायदा होगा |

Problem with High Sugar :-

Those who suffer from high sugar problem, they should use Gram( chana) flour and barley (jau) flour mixed in equal proportions and make roti out if it. Have 2-3 of them in the afternoon.

Take Triphala everyday. Triphala is also available in tablet form at our ashram.

Sort out green-green leaves of mango tree.. Dry them in shade. Once they are dry, make a powder... Put one spoon of this powder and mix it in glass of water at night. Next morning, boil this water...till it reduces to half. Those who have sugar problem must drink this concoction everyday.

Listen Audio

- श्री सुरेशानंदजी Delhi Rohini 12th Sep, 2011

बरकत बढाने के लिए



  • देशी गाय के दूध से जमाया हुआ दही को सुबह नाहते समय थोड़ा मल के स्नान करें ।


  • देशी गाय का थोड़ा दूध ( १-२ चम्मच ) नहाने की बाल्टी में डाल दें । उसी से स्नान करें ।


- श्री सुरेशानंदजी Rohini Delhi 12th Sep, 2011

विद्यार्थी के लिए

नवरात्रि के दिनों में खीर की २१ या ५१ आहुति गायत्री मंत्र बोलते हुए दें । इससे विद्यार्थी को बड़ा लाभ होगा।
(नवरात्रि :- 23rd Mar - 1stApr 2012 और 16th Oct - 23rd Oct 2012 )

Special for students :-
During the Navratri, students should offer an oblation of kheer (rice pudding) to God while reciting Gayatri mantra. This is highly beneficial for students.
(Navratri: 23rd Mar - 1stApr 2012 and 16th Oct - 23rd Oct 2012 )
Listen Audio

- श्री सुरेशानंदजी Delhi Rohini 12th Sep 2011

विघनो और मुसीबते दूर करने के लिए

हर महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी ( पूनम के बाद की ) के दिन सुबह में गणपतिजी का पूजन करें और रात को चन्द्रमा में गणपतिजी की भावना करके अर्घ्य दें और ये मंत्र बोलें :

ॐ गं गणपते नमः ।
ॐ सोमाय नमः ।

- शिव पुराण

To overcome hurdles and troubles in life

On every month's fourth lunar day during waxing period (after full moon night), offer prayers to Lord Ganapati and offer oblations to moon with the image of Lord Ganapati in it.
Recite these mantras

AUM GAM GANAPATAYE NAMAH
AUM SOMAYA NAMAH


- As per Shiv Purana
Listen Audio

- Shri Sureshanandji Delhi Rohini 12 Sep, 2011

Saturday, September 17, 2011

श्राद्ध के दिन

जिस दिन आप के घर में श्राद्ध हो उस दिन गीता का सातवें अध्याय का पाठ करे । पाठ करते समय जल भर के रखें । पाठ पूरा हो तो जल सूर्य भगवन को अर्घ्य दें और कहें की हमारे पितृ के लिए हम अर्पण करते हें। जिनका श्राद्ध है , उनके लिए आज का गीता पाठ अर्पण।
श्राद्ध पक्ष - 29th Sep to 15th Oct'2012

On the day of Shraaddh :-

On the day of Shraaddh in your home, recite the seventh chapter of Bhagvad Gita. Before recitation, keep a bowl of water in front. After finishing it, offer the water to Sun God and say that we are making this offering for our ancestors. Today's Gita recitation is dedicated to the one for whom Shraaddh is performed.
 

Shraaddh Paksh - 29th Sep to 15th Oct'2012
- श्री सुरेशानंदजी Rohini Delhi 12 Sep, 2011

नवरात्रि के दिनों में जप करे का मंत्र

नवरात्रि के दिनों में ' ॐ श्रीं ॐ ' का जप करें ।
(नवरात्रि :- 23rd Mar - 1stApr 2012 और 16th Oct - 23rd Oct 2012 )

Mantra for japa during Navratri

Do japa of this mantra during the days of Navratri : "AUM SHRIM AUM"
(Navratri : 23rd Mar - 1stApr 2012 or 16th Oct - 23rd Oct 2012 )
-- श्रीसुरेशानंदजी Rohini Delhi 12 Sep, 2011

मेली विधा को दूर करने

  • अगर व्यक्ति को ऊपरी हवा या टोने-टोटके की शंका हो, तो दूर्वा ( जो गणपति की पूजा में लेते हैं ) को व्यक्ति तकिये के नीचे रख दे सुबह उसे नदी या नहेर में बहा दें दूसरी और तीसरी रात को भी रखे और नदी या नहेर में बहा दें फिर दिन रखें और उसे बहायें नहीं , डिब्बे में इकट्ठे करें सातवें दिन कोयले जला दिए , उसमे ये दूर्वा के टुकड़े-टुकड़े करके जला दें और वो भी पानी में बहा दे।

  • गिलोय (जिसे गुजराती में गणों कहते हें ) की समिधा (अपनी बड़ी उंगली से थोड़ी बड़ी ) २१, ५१ या १०८ टुकड़े ले लें , कटोरी में रखें। उसमे दोनों छोर घी में डुबा दें और महामृत्युंजय मंत्र बोल के उसकी आहुति दें और संकल्प करें l
-श्रीसुरेशानंदजी Delhi रोहिणी 12 Sep, 2011

Saturday, September 10, 2011

वायु की तकलीफ़ में राहत पाने

१ लीटर पानी उबालो, उसमे हो सके तो ३ बिली पते और १ काली मिर्च मसल के डाल दो , पोना लीटर हो जाए ...ठंडा होवे ..तब वो ही पिया करो।

Vayu problems

Boil a liter of water, if possible add three leaves of Bel tree and one ground seed of black pepper.... Once the water reduces to 3/4.... cool it down... then drink it.

Listen Audio

- पूज्य बापूजी Sagwara 6 th Sep, 2011

यादशक्ति बढाने और बुद्धिमान बनने के लिए

बुद्धू से बुद्धू छोरे भी सुबहमे ' गं गं गं गणपते नमः । ' का जप कर के सारस्वत्य मंत्र का जप करे तो बुद्धिमान होगे ।

- पूज्य बापूजी Sagwara 6th Sep, 2011

छोटे बच्चों की तंदुरस्ती बढ़ाने

दूध के १ १/२ घंटे के अन्तराल पे ( पहले या बाद में ) , ३ तुलसी के पतों को पीसकर १ बूंद शहद मिलकर बच्चों को चटा दो । इससे तंदुरस्ती बढेगी और पेट की तकलीफ़ भी नहीं होगी ।

Listen Audio
- पूज्य बापूजी Sagwara 6th Sep, 2011

छोटे बच्चो को दूध छुड़वाने के लिए

बच्चे जब अन्न खाने लगते हें तब माताए बच्चो से दूध छुडवाने हरा घास को पीसकर लगा दे । बच्चा धोड़ा दूध पियेगा बाद में अपने आप छोड़ देगा । कोई दावा खाने की या लगाने की कोई जरुरत नहीं हें ।




- पूज्य बापूजी Sagwara 6th Sep, 2011

घर में बिमारी न आये

दरवाजे पर नीम और आसो के पत्तो का तोरण लगाने से घर में बिमारी नहीं आयेगी ।

- पूज्य बापूजी Gwalior 20th Aug, 2011

पित से होने वाली बिमारियों में आराम पाने

१०० ग्राम हरद और १०० ग्राम मिश्री को मिलकर रखो । हररोज ३-४ ग्राम ले लो । इससे पित सम्बन्धी बिमारियों में राहत होगी।

-पूज्य बापूजी Gwalior 19th Aug, 2011

Friday, September 9, 2011

कब्ज़



रात को १५ दाने मुनक्का द्राक्ष के पानी में भिगा दो , सुबह थलबस्ति करके , वो पानी में दाने उबल के दाने खालो और उसका पानी पी लो।

- Solan 4th Sep, 2011

गोरापन लाने के लिए



स्नान के पहले नींबू का रस पानी में मलकर चेहरे को, शरीर को मलेंगे तो त्वचा का रंग खुलेगा।


- Sagwara 6th Sep, 2011

ट्यूमर



एक गिलास गुनगुने पानी में १ बड़ा नींबू, २५-३० तुलसी के पत्तों का रस और सफ़ेद काली मिर्च ( अथवा काली मिर्च ) डालकर पीने से ट्यूमर ठीक हो जाता है ।


- Solan 4th Sep, 2011

Thursday, September 8, 2011

क्रोध को दूर करने के लिए

  1. चबा चबा करे २५ मिनिट घड़ियाल को सामने रख कर भोजन करे ।
  2. जभी क्रोध आये तो दोनों हाथ की मुठी ऐसी जोरो से बंध करो की नाखून हथेली को लगे ।


- पूज्य बापूजी Gwalior 20th Aug, 2011


कालसर्प योग की निवृति के लिए



  1. मासिक शिवरात्रि के दिन दरवाजे की दोनों ओर पिसी हुई हल्दी से स्वस्तिक बना दे ।

  2. हर मासिक शिवरात्रि को शिवलिंग पर दूध, पानी, शहद से अभिषेक करे और महा मृत्युंजय मंत्र का जप करे ।

  3. रात को इशान कोण की ओर मुख करके शिवजी के नाम का जप करे।

  4. हनुमान चालीसा पढ़े >> Listen Hanuman Chalisha
Listen Audio

- श्री सुरेशानंदजी Pali 25th Aug.

Wednesday, September 7, 2011

दुकान में बरकत बढ़ाने के लिए

  • जिन की अपनी दुकान, factory हो , वे शुक्ल पक्ष को दूज से लेकर पूनम तक रोज चन्द्र माँ को दूध , पानी और शक्कर मिलाकर अर्घ्य दे । और मंत्र बोले

' ॐ सोमाय नमः । '

' ॐ चन्द्रमशे नमः । '

' ॐ रोहिणी कान्ताय नमः । '

To bring prosperity in business

For those who own their own shop, factory or business, they should all offer oblations to moon from the second day till full moon night of its waxing period. Oblations could be of milk, water or sugar. Recite these following mantras as well.

AUM SOMAYA NAMAH
AUM CHANDRAMASHE NAMAH
AUM ROHINI KANTAYA NAMAH
 
Listen Audio

- श्री सुरेशानंदजी Jodhpur 4th Sep, 2011

Tuesday, September 6, 2011

तुलसी के बीज का चमत्कार

तुलसी के बीज पीसकर रखो । एक चुटकी बीज रात को भीगा दो । सुबह खा लो । इससे ....
  • पेट की तकलीफ़ भागेगी ।
  • यादशक्ति बढेगी ।
  • बुढ़ापे की कमजोरी से बचोगे ।
  • heart attack नहीं होगा ।
  • High Blood Pressure भी नहीं होगा ।

- पूज्य बापूजी Jodhpur 3rd Sep, 2011

मोटापा दूर करने के लिए

25-30 तुलसी के पत्तो का रस , 1  गिलास  गुनगुना पानी , 1 बड़ा निम्बू का रस निचोड़ के ले ।
- पूज्य बापूजी Jodhpur 3rd Sep, 2011

Monday, September 5, 2011

कभी अपशुकन जैसा लगे

1 बार श्वास रोककर मन में महा मुत्युंजय मंत्र का जप कर लो।

-सुरेशान्दजी Jodhpur 4th Sep, 2011

भूख न लगती हो तो

पपैये (पपीते) में लिंबू मिलकर खाओ । भूख अच्छी लगेगी।
-पूज्य बापूजी Jodhpur 4th Sep, 2011

बवासीर की तकलीफ़ दूर करने

15 ग्राम काले तिल पिसकर, 10-15 ग्राम मख्खन के साथ मिलकर सुबह सुबह खा लो । कैसा भी बवासीर हो मिट जाता हें
- पूज्य बापूजी Jodhpur 4th Sep, 2011

जिनको बवासीर है, शौच वाली जगह से जिनको खून आता है, वे २ नींबू का रस निकालकर, छान लें और एनिमा के साधन से शौच वाली जगह से एनिमा द्वारा नींबू का रस लें और १० मिनट सिकोड़ कर सोये रहें । इतने में वो नींबू गर्मी खींच लेगा और शौच होगा । हफ्ते में ३-४ बार करें.......कैसा भी बवासीर हो.........फायदा होगा

Solapur 20th Feb’10

Listen Audio

बवासीर में पलाश के पत्तों की सब्जी घी व तेल में बनाकर दही के साथ खायें।

ऋषि प्रसाद, अप्रैल २०११


दाँतों में से खून निकलता हो तो

नीबूं का रस मसूड़ों को रगड़ने से आराम होगा ।
- पूज्य बापूजी Jodhpur 4th Sep, 2011

दाँतों को मजबूत बनाने के लिए

महीने में २-३ बार रात को सोते समय जरा सा नमक और सरसों का तेल मिलकर दाँतों को रगड़ दे ।
- पूज्य बापूजी Jodhpur 4th Sep, 2011