Search This Blog

Wednesday, March 13, 2013

Holi Tips

  • होली के बाद खजूर नहीं खाना चाहिए, ये पचने में भारी होते है, इन दिनों में सर्दियों का जमा हुआ कफ पिघलता है और जठराग्नि कम करता है. इसलिए इन दिनों में हल्का भोजन करें, धाणी और चना खाएं, जिससे जमा हुआ कफ निकल जाये
  • इन दिनों में १५-२० दिन सुबह १५-२० नीम के पत्ते और काली मिर्च चबा-चबाकर खाने से चर्म रोग दूर होते हैं. भोजन में नीम का तेल उपयोग करने से भी लाभ होता है.
  • होली के दिनों में १५-२० दिन तक नमक न खाएं, अथवा कम कर दें, इससे वर्ष भर स्वास्थ्य में मदद मिलती है
  • इन दिनों में पलाश/केसुडे/गेंदे के फूलों के रंग से होली खेलने से शरीर के ७ धातु संतुलन में रहते हैं, इनसे होली खेलने से चमड़ी पर एक layer बन जाती है जो धूप की तीखी किरणों से रक्षा करती है.
  • होली के दिन १५-२० min. सूर्यस्नान बहुत लाभकारी होता है, जरुर करना चाहिए
  • होली की रात जप-ध्यान करने से अनंत्गुना फल होता है.
Holi Tips
- One should never eat dates after Holi. They are heavy to digest. In these days, the accumulated cough in the body starts to melt and digestive power stays weak. So, on these days, one should follow light meals, eat coriander seeds and chana which aid removal of cough.
- On these days, one should chew 15-20grams of Neem leaves with black pepper in the morning for 15-20 days. It drives away any skin ailments. One may also use neem oil in meals alternately.
- In 15-20 days after Holi, do not take salt in your meals,or reduce them if you can. This will help maintain good health throughout the rest of the year.
- In these days, use palash/kesude/gende flower colours to play holi which helps stabilise the seven colours of our body. These form a layer over your body which protect the skin from the piercing rays of sun.
- On the day of Holi, sun bathing for 15-20 minutes is considered highly beneficial.
- The virtues of doing japa and meditation on the night of Holi is countless.
- Holi Satsang Surat

1 comment:

ashu said...

jap ka time jaroor dena chahiya kee kitnay bajay say kitnay bajay tuk jap kerna chahiya