Search This Blog

Wednesday, September 15, 2010

लक्ष्मी प्रप्ति व्रत !

भाद्रपद शुक्ल अष्टमी से आश्विन कृष्ण अष्टमी तक घर में अगर कोई महालक्ष्मी माता का पूजन करे और रात को चन्द्रमा को अर्घ्य दे तो उस के घर में लक्ष्मी बढती जाती है
इस वर्ष ये योग 23 सितम्बर 2012 से 8 अक्टूबर 2012 तक है

1) महालक्ष्मी का पूजन करे.
2)रात को चन्द्रमा को अर्घ्य देना कच्चे दूध(थोडासा) से फिर पानी से.. .
3)महालक्ष्मी का मन्त्र जप करना.
श्रीं नमः
विष्णु प्रियाय नमः
महा लक्ष्मै नमः
इन में से कोई भी एक जप करे..



- श्री सुरेशानन्दजी १२ सितम्बर २०१० चंबा

1 comment:

Sunil said...

Asvin Sukha Astami ki jagah Asvin Krishna Astami hai. thithi ko sahi karen.